HTML क्या है? HTML के बारे में पूरी जानकारी हिंदी में

What is HTML ? Complete information about HTML In Hindi

नमस्कार दोस्तो आपका हमारि वेबसाइटपे स्वागत है।दोस्तो आज हम आपको कोडिंग के कुछ ऎसे हि ऎक जो खुद ऎक कोड है।और उसका उपयोग किसि वेबसाइट और उसकि सामग्रि को बनाने के लिये किया जाता है। तो आइये दोस्तो आज हम आपको HTML क्या है? उसके बारे मे इस आर्टिकल मे बताउंग।

दोस्तो आज हम आपको इस आर्टिकल पर HTML क्या है? उसके बारे मे पुरि जनकारि देने कि कोशिश करुंगा।दोस्तो आज के समय मे हर कोइ पैसा कमाना चाहता है। और वो अपने पैरो पर सबकि जरुरतो को पुरा करना चाहता है।तो आज के समय में अलग अलग व्यक्ति अलग अलग तरीके से काम करता है जैसे कि कोई व्यक्ति को छोटी या बड़ी शॉप है या कोई व्यक्ति कंपनी में काम कर रहा है या कोई व्यक्ति को खुद का बड़ा बिजनेस है और दोस्तों आज के समय में कई ऐसे भी लोग हैं जो इंटरनेट के जरिए ऑनलाइन हो काम करते हैं और पैसा कमाते हैं।इस तरह सभी कामों में मेहनत करनी पड़ती है इसी तरह इस इंटरनेट वाले काम में की मेहनत करनी पड़ती है और कई लोग ऑनलाइन लॉगइन करते हैं और उसमें वह खुद मेहनत करते हैं और वह पैसा कमाते हैं।

ब्लोगिंग करने के लिए आपको लैपटॉप या कंप्यूटर चाहिए और उसमें ऎक इंटरनेट कनेक्शन होना चाहिए। दोस्तों अगर आप लोग भी ब्लोगिंग करने के लिए तैयार है तो आपको ब्लोगिंग का ज्ञान होना चाहिए। और ब्लोगिंग कि शुरुआत करने के लिए सबसे अहम चीज आपको एक अपना खुद का वेबसाइट बनाना होगा। और वह वेबसाइट बनाने के लिए हमें HTML का पूरी तरह से ज्ञान होना चाहिये।आइए दोस्तों आज हम इस आर्टिकल मे आपको यही बताने वाला है कि यह HTML  में विशेषता क्या है? और इसे वेबपेज या वेबसाइट बनाने के लिए बनाया गया है।


What is HTML ?

HTML ऎक संक्षिप्त शब्द है जो हाइपर टेक्स्ट मार्कअप लैंग्वेज के लिए है। जिसका उपयोग वेबपेज और वेब एप्लीकेशन बनाने के लिए किया जाता है।Hyper Text Markup Language को हम छोटे नाम HTML से जानते है। HTML ऎक कंम्प्युटर कि भाषा है जिसका इस्तमाल वेबसाइट बनाने के लिये किया जाता है।और इसको रंग रुप देने के लिये CCC  का इस्तमाल होता है।HTML कॉर्डिंग भाषा है जिसमें अधिकांश वेबसाइट लिखी जाती है। HTML का उपयोग वेब पेज बनाने और उन्हें कार्यात्मक बनाने के लिए किया जाता है।यह भाषा कंप्यूटर कि अन्य भाषा जैसे कि C, C++, Java आदि के मुकाबले से बहुत ही सरल है। इसका मतलब इसका इस्तेमाल करना कोई भी व्यक्ति आसानी से और बहुत कम समय में सीख सकता है।

HTML ऎक मार्कअप भाषा है। जिसका इस्तेमाल वेब पेज को बनाने के लिए किया जाता है। इसके अलावा इसका इस्तेमाल पर एक एप्लीकेशन बनाने के लिए भी किया जाता है।यह वेब पेजो निर्माण के लिए एक मानक मार्कअप भाषा है।यह एक HTML  तत्व जैसे टैग, विशेषताओं का उपयोग करके अनुभाग , पैराग्राफ, और लिंक के निर्माण और संरचना की अनुमति देता है।HTML की मदद से वेबसाइट बनाने के बाद उस वेबसाइट को दुनिया का कोई भी व्यक्ति इंटरनेट के जरिए देख सकता है।HTML  की खोज भौतिक विज्ञानी टिम बर्नर्स-ली ने सन 1980 मे Geneva मे किया था।HTML मंच स्वतंत्र भाषा है इसका इस्तेमाल किसी भी प्लेटफार्म में किया जा सकता है जैसे कि Windows, Linux, Macintosh आदि....

HTML किसी वेबसाइट या में पेज को विकसित करने के लिए सबसे अधिक उपयोग की जाने वाली भाषा है। 1991 के अंत में सबसे पहला एक HTML बनाया गया था। फिर धीरे-धीरे इसका वेरिएशन में बदलाव होता गया और अब 2022 में HTML 5 का उपयोग ज्यादातर वेब पेजो को विकसित करने के लिए किया जाता है।आइए दोस्तों HTML को पूरे संक्षिप्त रूप से जानते हैं।

HT(Hyper Text ):- हाइपरटेक्स्ट का सीधा मतलब है टैक्स के भीतर टैक्स एक टेक्स्ट के भीतर एक लिंक होता है यह टेक्स होता है। जब भी आप किसी लिंक पर क्लिक करते हैं जो आपको एक नई वेब पेज पर लाता है तो आपने हाइपरटेक्स्ट पर क्लिक किया है।हाइपरटेक्स्ट दो या दो से अधिक वेब पेजो को एक दूसरे से जोड़ने का एक तरीका है।

ML(Markup Language):-  मार्कअप लैंग्वेज एक कंप्यूटर लैंग्वेज है। जिसका उपयोग टेक्स्ट डॉक्यूमेंट में लेआउट और फॉर्मेटिंग कन्वेंशन को लागू करने के लिए किया जाता है। मार्कअप लैंग्वेज को अधिक संवादात्मक और प्रगतिशील बनाति हैं। यह टैक्स को इमेज, टेबल ,लिंक आदि मे बदल सकता है।

HTML का उपयोग  

HTML का बहुत सारे काम में उपयोग होता है।आइये देखते है।

1.वेब विकास:- डेवलपर HTML  कोड का उपयोग यह डिजाइन करने के लिए करते हैं कि कोई ब्राउज़र वेब पेजो तत्वो जैसे टैक्स, हाइपरलिंक और मीडिया फ़ाइलों को कैसे प्रदर्शित करता है।

2.इंटरनेट नेविगेशन:- उपयोगकर्ता आसानी से नेविगेट कर सकते हैं। और संबंधित पृष्ठो और वेबसाइटों के बीच लिंक डाल सकते हैं। क्योंकि हाइपरलिंक्स को एंबेड करने के लिए HTML का अधिक उपयोग किया जाता है।

3.वेब प्रलेखन:-HTML माइक्रोसॉफ्ट वर्ड के संबंधीत दस्तावेजों को व्यवस्थित और प्रारूपित करना संभव बनता है।

  • HTML का उपयोग वेबपेज को विकसित करने के लिए किया जाता है।
  • इस भाषा का उपयोग एक पेज से दूसरे पेज को जोड़ने के लिए किया जाता है।
  • यह भाषा डाटा एंट्री से संबधित कामों को करने में मदद करती है।
  • इस भाषा का उपयोग गेम बनाने के लिए भी किया जाता है।

दोस्तों यह भी ध्यान देने योग्य है कि HTML  को प्रोग्रामिंग भाषा नहीं माना जाता है क्योंकि यह गतिशील कार्यक्षमता नहीं बन सकता है।इसे अब आधिकारिक में मानक माना जाता है। वर्ल्ड वाइड वेब कंसोर्टियम निमित्त अपडेट प्रदान करने के लिए साथ-साथ HTML  इन विशेषताओं का रखरखाव और विकास करता है।

HTML कैसे काम करता है?

HTML  का इस्तेमाल वेब पेज बनाना बहुत ही आसान है। इसके लिए आपको चाहिए दो चीज पहला है एक साधारण टेक्स्ट एडिटर जैसे कि नोटपेड जिसमें HTML  का कोड लिखा जाता है। और दूसरा चाहिए ब्राउज़र जैसे इंटरनेट एक्सपोर्ट ,गूगल क्रोम, मोज़िला फायरफॉक्स आदि जिसमें आपके वेबसाइट को पहचान मिलती है और जिससे इंटरनेट यूजर देख सकते हैं।औसत वेबसाइट में कई अलग अलग है फीमेल पेज शामिल होते हैं उदाहरण के लिए होमपेज, अबाउट पेज और कांटेक्ट पेज सभी के अलग-अलग HTML  फाइल होंगी।किसी HTML फ़ाइल को देखने के लिए वेब ब्राउज़र जैसे इंटरनेट एक्सप्लॉर, गूगल क्रोम, मोज़िला फायरफॉक्स, सफारि आदि का उपयोग किया जाता है।

सबसे पहले ब्राउज़र HTML  फाइलों को पढता है। और एक HTML टेग्स के अनुसार कांटेक्ट को दृश्य रूप में अनुवाद करता है।HTML  दस्तावेज फाइल होती है। जो HTML एक्सटेंशन के साथ समाप्त होती है। एक वेब ब्राउज़र HTML फाइल को पड़ता है। और इसकी सामग्री प्रस्तुत करता है ताकि इंटरनेट उपयोगकर्ता इसे देख सके। HTML मे छोटे-छोटे कोड कि सिरिज से बना होता है। जिसको हम नोटपैड में लिखते हैं उन छोटे कोड्स को टैग करते हैं HTML टैग ब्राउज़र को बताता है कि उस टेग्स के अंदर लिखे गई है एलिमेंट्स को वेबसाइट में कैसे और कहां दिखाया जाए।सभी HTML पेजों में एक HTML तत्वों की श्रंखला होती है। जिसमें टैग और विशेषताओं का एक सेट होता है। HTML तत्व एक वेब पेज के बिल्डिंग बॉक्स है। एक टेग वेब ब्राउज़र को बताता है कि एक तत्व कहां से शुरू और समाप्त होता है। जबकि एक विशेषता तत्व की विशेषताओं का वर्णन करती है।

HTML मे मुख्य तिन भाग होते है।

1.शुरु का टैग:- शुरु का टैग यह बताने के लिए उपयोग किया जाता है कि कोई तत्व कहां प्रभाव होना शुरू करता है। टैग को खोलने और बंद करने वाले कोण कोस्टक के साथ लपेटा गया है। उदाहरण के लिए पैराग्राफ बनाने के लिए स्टार्ट टैग <P> का उपयोग करें।

2.कोन्टेन्ट:- इसमें आउटपुट है। जिनको अन्य उपयोगकर्ता देखते हैं। जैसे कि इसका उयोग कोई पेरेग्राफ़ मे उपयोग किया जाता है। उदाहरण के लिये 

  • <h1> html क्या है?</h1>
  • <p>html सिखना बहुत आसान है<p/>

3.क्लोजिंग टैग:- यह एक समाप्त करने पर इसका उपयोग किया जाता है। इस टेग का उपयोग हाइपरलिंक है, इस टेग से ऎक पेज से दुसरे पेज को लिंक कर सकते है। यह ओपनिंग टेग के समान है लेकिन एलिमेंट के नाम से पहले फॉरवर्ड के साथ उपयोग होत है। उदाहरण के लिये <p/>.  

HTML वैसे बहुत सारे टैग प्रदान करता ।है जो ग्राफी, फोंट साइज और कलर के इस्तेमाल से आपकी वेबसाइट को एक आकर्षक रूप देता है।HTML  इन कोड को लिखने लेने के बाद आपको डॉक्यूमेंट को सेव करना होता है उसको सेव करने के लिए HTML फाइल के नाम के साथ .html  या फिर  .html लिखना जरूरी है। तभी वह आपको आपके ब्राउज़र में सेव करने के बाद HTML डोक्युमेंट को आपके फ़ाइल मे दिकवायेंगा वरना नहि।सेव कर लेने के बाद एक HTMLडॉक्यूमेंट देखने के लिए ब्राउज़र को खोलना होगा। ब्राउज़र आपके HTMLफाइल को रीड करेगा और आपके सही तरीके से लिखे हुए कोड को ट्रांसलेट कर सही रूप से आपके वेबसाइट को दिखाएगा जैसा आपने कोड लिखते वक्त सोचा होगा।

HTML का उदाहरण

चलिए सबसे पहले हेलो वर्ड HTML कोड करते नीचे दिए गए कोड को कॉपी करके आप नोटपैड में पेस्ट करें और HTML ऎक्सटेन्सन में फ़ाइलो को सेव करें।

<html>
<head>
<style>
<tital>first Hello Word! </tital>
</head>
<body>



<h1>Hello,World!</h1>
<p>This is a first testing code. I Love HTML </p>
</body>
</html>

HTML के प्रकार 

आइये दोस्तो HTML5 के प्रकार जानते है।

1.Transitional HTML:- HTML का सबसे सामान्य प्रकार है। इसका साइनटेक्स फेक्सिबल होता है ।और साइनटेक्स रिस्ट्रिक्शन के बिना ही उपयोग किया जाता है। यानी कि यदि टेक गलत होता है तो ब्राउज़र की त्रुटियों के ठीक नहीं करते हैं और वे वैसे भी सामग्री प्रदर्शित करते हैं।

2.Frameset HTML:- इस प्रकार का HTML वेब डेवलपर्स को HTML दस्तावेजो का माजेक बनाने की अनुमति देता है। जहां एक ही स्क्रीन में कहीं दस्तवेजो को जोडा जा सकता है। इसका प्रयोग अक्सर वेब पेज का मेन्यू सिस्टम बनाने के लिए किया जाता है।

3.Strict HTML:- HTML का Strict प्रकार HTML में नियमों को वापस करने और इससे अधिक विश्वसनीय बनाने के लिए उपयोग किया जाता है। उदाहरण के लिए इसमें सभि खुला टेग के लिए सभी टेग को बंद करने की आवश्यकता होती है। इस प्रकार के HTML फोन पर महत्वपूर्ण है। एक सांफ़ और त्रुटि मुक्त कोड पृष्ठो लो तेजी से लोड करने में मदद करता है।

HTML के लाभ

  • HTML का इस्तेमाल करना किसी भि युजर और प्रोग्रामर के लिए आसान होता है। यह एक सरल भाषा है जिसे सीखना आसान होता है।
  • यह लगभग सभी तरह के ब्राउज़र को सपोर्ट करती है।
  • यह एक फ्री ऑफ कॉस्ट भाषा है जिसका अर्थ है कि इस भाषा का उपयोग करने के लिए यूजर को सॉफ्टवेयर खरीदने की जरूरत नहीं पड़ती।
  •  इस भाषा को ऎडिट और मॉडिफाई करना आसान है।
  • HTML को जिप फाइल में कोम्प्रेस किय जा सकता है इसलिए इसके कोड को डाउनलोड करना आसान होता है।
  • यह भाषा User Friendly है।
  • इस भाषा light weight है अर्थात इसका साइज बहुत कम है।
  • इस भाषा के द्वारा हम वेबसाइट के SEO को सुधार सकते हैं।
  • इस भाषा का प्रयोग दूसरी भाषाओं के साथ किया जा सकता है। इसका प्रयोग पीएचपी, JavaScript
    Community-verified icon
     और CSS आदि के साथ किया जा सकता है।

HTML कि विशेषताऎ

    • HTML बहुत ही आसान भाषा है। इसलिए इसको सीखना और याद रखना आसान होता है। इसके अलावा इसको हम आसानी से मॉडिफाई भी कर सकते है।
    • इस भाषा का उपयोग करके एक प्रोग्रामर वेब पेज पर लिंक जोड़ सकते हैं।
    • HTML में बहुत से फॉर्मेटिंग टैग्स होते हैं जिसकी मदद से इफेक्टिव प्रेजेंटेशन बनाया जा सकता है।
    • इस भाषा का सनटेक्स सर्व होता है।
    • इस भाषा के द्वारा हम वेबसाइट में ऑडियो ,वीडियो और इमेज को डाल सकते हैं।
    • यह एक मार्कअप लैंग्वेज है जिसमें वेब पेज को डिजाइन करना आसान होता है।
    • यह केस सेंसेटिव नहीं होती इसलिए इसमें टैक्स को अपरकेस और लोअरकेस दोनों तारीख कैसे लिखा जाता है।
    इस विडियो को देखे और 2 दिनो मे HTML सिखे।

    HTML कैसे सिखे?

    यदि दोस्तो आप HTML सिखना चाहते हो तो आइये हम आपको बताते है कि आप HTML कहा से सिख सकते है।

    1.You Tube से HTML सिखे
    दोस्तों आजकल यूट्यूब में सभी प्रकार का कांटेक्ट उपलब्ध है। और you tube पर HTML सर्च करके आप उस HTML के ट्यूटोरियल सर्च करने पर आपको बहुत सारे चैनल मिल जाएंगे जहां से आप  HTML  देख सकते हो और आप HTML भाषा शिख सकते हो।

    2.ओनलाइन कोर्स करके HTML सिखे 
    दोस्तों अगर आप HTML सीखना चाहते हैं। तो आजकल के जमाने में ऑनलाइन कोर्ष बहुत सारे मिल जाते हैं जिससे आप HTML सीख सकते हो। दोस्तों आप ऑनलाइन कोर्स के द्वारा HTML सीखना चाहते हैं। आजकल ऑनलाइन कोर्स तेजी से पॉपुलर हो रहा है। इसमें आपको न किसी टीचर के पास जाना पड़ता है ना किसी इंस्टिट्यूट मैं। आप इसको आसानी से घर बैठकर सारी चीज आसानी से सीख सकते हैं। 

    3.Google से HTML सिखे 
    दोस्तों अगर आप HTML कोडिंग सीखना चाहते हो तो आप गूगल के माध्यम से भी HTML कोडिंग शिख सकते हैं।गूगल में जाकर आप सर्च कर सकते हैं।और गूगल में आपको HTML के अनेक टेक्स्ट पेज देखने को मिल जाएंगे। इसमें उदाहरण के माध्यम से भी आपको समझाया जाता है। यह आपको सीखने के लिए ऎक विश्वशनिय प्लेटफ़ोर्म हो सकता है।

    Read More 


    मुझे उम्मीद है कि आपको मेरा आया यह लेख HTML क्या है? यह जरूर पसंद आया होगा। मेरी हमेशा से यह कोशिश रहती है कि आप सभी को उसके बारे में या उस विषय के बारे में पूरी जानकारी दे सकूं।दोस्तो आज हमने बताया कि HTML  क्या है? और HTML और उनसे जुडि हर जानकारि देने कि कोशिश है।और दोस्तो हमने उनकि उनसे जुडि हर माहिति को आपको साझा करने कि कोशिश कि है। यदि आपको इस पोस्ट मे कमि दिखति है तो आप हमे कोमेन्ट करके बता सकते हो।

    अगर आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो आप इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करे ,,,''धन्यवाद''

    टेग:-what is html in hindi , what is html in computer in hindi

    Comments